शुक्रवार, 29 जुलाई 2011

उसने मुझसे कहा

उसने मुझसे कहा 
मेरा मोबाइल कितना सुन्दर है 
इस पर कविता लिखो 
मेरी स्कूटी कैसा उड़ती है 
कभी इस पर भी कविता लिखो 
लैपटॉप भी अच्छा है 
इस पर भी तो लिखो 
और जो गाड़ी दी है  पापा ने 
वो सच में कितनी डैशिंग है 
उस पर इक कविता लिखो 

उसकी बातें सुनते सुनते 
आसमान मैं देख रहा था 
चाँद सितारे बादल बिजली 
 खोज रहा था 

कोई टिप्पणी नहीं: